2
1
previous arrow
next arrow
Breaking Newsउद्योग व्यापार बाजारदेश

सावधान : आपके आधार का कौन और कहां कर रहा है इस्तेमाल, घर बैठे पता लगाए

  • आजकल बिना आधार कार्ड के हम कोई भी काम नहीं कर सकते हैंबैंक अकाउंट को आधार से जोड़ना अनिवार्य है, इसी आधार पर लोगों के बैंक खाते में सब्सिडी जैसी सुविधा भी मिल रही है। सरकारी योजनाओं का लाभ लेना हो तो बैंक खाता और आधार जोड़ना जरूरी है। खासकर गैस की सब्सिडी लेनी हो तो यह काम और भी जरूरी हो जाता है, अगर नहीं जोड़ पाए हैं तो यह काम कर लें क्योंकि आसान होने के साथ यह निहायत जरूरी भी है, अगर खाते को आधार से जोड़ लिया है तो यह भी ध्यान रखें कि आपके आधार पर कितने खाते जुड़े हैं।
  • आपके कई बैंक अकाउंट हो सकते हैं जो एक ही आधार से जुड़े होंगे. इसलिए आधार नंबर को चेक कर आश्वस्त हो जाना चाहिए कि सभी खाते आधार से जुड़े हैं या नहीं. सुरक्षा की दृष्टि से एक बात और जरूरी है. ऑनलाइन की दुनिया में फ्रॉड की घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं. कभी ऐसा भी देखा जाता है कि किसी के अकाउंट पर कोई और फर्जी अकाउंट चला रहा है. फर्जी अकाउंट के सहारे बड़ी वारदात को अंजाम दिया जा रहा है. इससे बचने और फर्जी अकाउंट के बारे में जानने का सबसे अच्छा तरीका है कि आधार चेक करें. पता करें कि आपके आधार से कितने बैंक अकाउंट जुड़े हैं. अगर कोई अकाउंट संदिग्ध लग रहा है तो सावधान हो जाएं और तुरंत साइबर क्राइम ब्रांच में इसकी शिकायत करें।

आधार की वेबसाइट पर जाएं

  • आधार से जुड़े बैंक खातों की जानकारी यूआईडीएआई की वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं. स्टेटस चेक करने के लिए नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड (NPCL) ने पूरी मशीनरी तैयारी की है. इसके जरिये आप बैंक अकाउंट और आधार से लिंकिंग की जानकारी पा सकते हैं. इसकी जानकारी आपको मोबाइल पर भी मिल जाएगी क्योंकि आधार और बैंक अकाउंट के साथ मोबाइल नंबर भी रजिस्टर होता है।

कैसे करें चेक कि आपके आधार से कितने बैंक खाते जुड़े हैं

  • इसे जानने के लिए एनपीसीएल मैपर के लिंक https://resident.uidai.gov.in/bank-mapper पर विजिट कर सकते हैं. इस पर क्लिक करने और जरूरी जानकारी भरने के बाद रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी जाता है. आपके आधार नंबर का दुरुपयोग न हो, उस नंबर के आधार पर कोई फर्जी अकाउंट न खोले, इसके लिए यूआईडीएआई की तरफ से आधार को लॉक करने की नसीहत दी जाती है. जब जरूरी हो तो उसे अनलॉक कर सकते हैं, जरूरी न हो तो उसे लॉक करके रख सकते हैं. इससे फर्जी अकाउंट बनने का खतरा कम होगा।

आधार-बैंक खाता स्टेटस चेक करे

  • सबसे पहले आधार की वेबसाइट uidai.in पर जाएं. यहां आपको My Aadhar सेक्शन दिखेगा. इस पर क्लिक करने के बाद आपको आधार सर्विसेज सेक्शन में जाना होगा. इस पर क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाता है. यहां आपसे यूआईडी या वीआईडी नंबर पूछा जाता है. सिक्योरिटी कोड भी डालना होता है जो एक छोटे बॉक्स में दर्ज होता है. यह कैप्चा कोड होता है जिसे सावधानी से भरना होता है।
  • ये सभी जानकारी देने के बाद वन टाइम पासवर्ड (OTP) पर क्लिक करना होगा. इसके तुरंत बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी जाता है. इस कोड को यूआईडीएआई ओटीपी सेक्शन में डाल दें और सबमिट का बटन दबा दें. अगर आपका आधार बैंक खाते से जुड़ा होगा तो एक मैसेज डिसप्ले होगा. मैसेज में यह लिखा होता है कि यूआईडीएआई एनपीसीएल के सर्वर से लिया गया कोई डेटा स्टोर नहीं करता है।

सावधानी से रखें आधार नंबर

  • अगर यह मैसेज नहीं दिखता है तो आपको अपने बैंक ब्रांच में जाना होगा और आधार लिंक के लिए कहना होगा. बैंक खाता और आधार जोड़े जाने के पीछे बड़ा कारण यही है कि इससे फर्जीवाड़े से बचा जा सकता है. फर्जीवाड़ा करने वाले दूसरे के खाते से पैसे निकालते हैं और गायब हो जाते हैं. साइबर अपराधी फर्जी नाम या फर्जी कंपनी के नाम पर खाता खोलते हैं. इन खातों के जरिये मनी लॉन्ड्रिंग का काम होता है. हैकिंग करने वाले आधार नंबर की भी चोरी करते हैं और उस पर फर्जी बैंक अकाउंट बनाना आसान काम है।
अगर आपको यह पोस्ट जानकारी पूर्ण उपयोगी लगे तो कृपया इसे शेयर जरूर करें।

ब्रेकिंग : रायपुर में आज से सभी दुकानें खुलेंगी – पढ़े पूरी खबर

मॉडल अभिनेत्री इसप्रीत कौर मक्कड़ की कोरोना पर सॉर्ट फ़िल्म बनाने की अनूठी पहल

बिग ब्रेकिंग – प्रशांत कुमार मिश्रा होंगे छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के एक्टिंग चीफ जस्टिस

बस्तर में पुलिस – नक्सली मुठभेड़ : बड़ी मात्रा में विस्फोटक बरामद

उतर रही है कोरोना की नदी – तारन प्रकाश सिन्हा

व्यापार जगत : सरकारी रेट पर सस्ता और खरा सोना खरीदने का सुनहरा मौका

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button