2
1
previous arrow
next arrow
छत्तीसगढ़रायपुरस्वास्थ्य

बड़ी खबर : राजधानी में सौ बिस्तरों का सर्वसुविधायुक्त अस्पताल बनाएगा जैन समाज

सेवा भाव से होगा

सर्व समाज का इलाज

————– 

छत्तीसगढ़ की छेरछेरा परम्परा से

धन एकत्र कर हॉस्पिटल बनाएंगे

————–

  • रायपुर/एक्ट इंडिया न्यूज/31/05/2021
  • वैश्विक महामारी कोरोना की आपदा से जहां सभी जाति-धर्म व समाज के लोगों को प्रभावित किया है वहीं छत्तीसगढ़ में रहने वाले जैन समाज के लगभग 40 प्रतिशत परिवार इससे प्रभावित रहे, इसी के मद्देनजर छत्तीसगढ़ के जैन समाज व जैन संवेदना ट्रस्ट ने राजधानी में सौ बिस्तरों वाले सर्वसुविधायुक्त अस्पताल का निर्माण करने का निर्णय लिया है। इस अस्पताल में सर्व समाज के लोगों का इलाज न लाभ न हानि के सिद्धांत पर किया जाएगा।
अस्पताल निर्माण के लिए सार्वजनिक-व्यक्तिगत
कई कार्यक्रमों के खर्चों में की जाएगी कटौती 
  • जैन संवेदना ट्रस्ट के महेन्द्र कोचर व विजय चोपड़ा ने बताया कि छत्तीसगढ़ की छेरछेरा परम्परा का अनुगमन करते हुए सकल समाज व जैन संवेदना ट्रस्ट ने ऐसे सर्वसुविधायुक्त अस्पताल बनाने का फैसला किया है, जिसके अंतर्गत चातुर्मास के खर्चों को कम कर, सामाजिक-धार्मिक अनुष्ठानों के खर्चों में भी कटौती कर उससे हुई बचत राशि को अस्पताल निर्माण में लगाया जाएगा।
बड़ी खबर : राजधानी में सौ बिस्तरों का सर्वसुविधायुक्त अस्पताल बनाएगा जैन समाज Pradakshina Consulting PVT LTD

महेन्द्र कोचर

  • रायपुर सहित पूरे छत्तीसगढ़ में चातुर्मास के आयोजन में बड़ी राशि व्यय होती है जिसका धार्मिक महत्व है लेकिन कोविड आपदा व इसका खामियाजा समाज ने भुगता है।
  • महेन्द्र कोचर ने कहा कि स्वास्थ्य सुधारों के लिए क्रांतिकारी कदम उठाने की जरूरत है, अतः सकल जैन समाज की भावना है कि स्वास्थ्य सुविधाओं में ध्यान देना चाहिए, इस हेतु जैन संवेदना ट्रस्ट सार्थक प्रयास कर रहा है।
  • इसके अतिरिक्त व्यक्तिगत कार्यक्रमों जैसे शादी-ब्याह, मृत्यु भोज, जन्म दिन, सालगिरह आदि के खर्चों में भी कटौती करने की अपील की गई है, वहीं आडम्बर से दूर रहकर कार्यक्रम को करने के निर्णय के अलावा वर-वधु चयन की प्रक्रिया में सारी औपचारिकताएं कुण्डली मिलान आदि पूर्ण करने के बाद ही एक-दूसरे के घरों में रिश्ते तय करने जाएं।
बड़ी खबर : राजधानी में सौ बिस्तरों का सर्वसुविधायुक्त अस्पताल बनाएगा जैन समाज Pradakshina Consulting PVT LTD

विजय चोपड़ा

  • रिश्ते तय करने में ही मध्यम वर्ग के शादी सा खर्च हो जाता है । प्री-वेडिंग शूट में बंदिश लगाने और लेडिस संगीत जैसे कार्यक्रमों को घर तक ही सीमित करने के भी निर्णय लिए गए हैं, इन सभी अतिरिक्त व्यय के कार्यक्रमों से जो शेष राशि होगी, उसे छत्तीसगढ़ की छेरछेरा की तर्ज पर जैन समाज से एकत्र कर उस जमा राशि से सौ बिस्तरों का सर्वसुविधायुक्त अस्पताल बनाने का निर्णय लिया गया है।
जैन संवेदना ट्रस्ट के महेन्द्र कोचर, विजय चोपड़ा, प्रवीण जैन, चन्द्रेश शाह, राजेश जैन, मोती जैन, महावीर कोचर, गुलाब दस्सानी  ने उक्त सामूहिक निर्णयों के सफल क्रियान्वयन के लिए सकल जैन समाज से सहयोग की अपील की है।
अगर आपको यह पोस्ट जानकारी पूर्ण उपयोगी लगे तो कृपया इसे शेयर जरूर करें।

 

हेल्थ एंड फिटनेस : डेली दूध के सेवन से दिल की बीमारी रहेगी दूर, और भी है फायदे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button