2
1
previous arrow
next arrow
उद्योग व्यापार बाजारछत्तीसगढ़देशरायपुर

व्यापार जगत : जीएसटी में मात्र 200  रुपये के माल बेचने पर अलग बिल देना अनिवार्य – सीए चेतन तारवानी

रायपुर/एन्टी करप्शन टाइम्स

  • सीए चेतन तारवानी सिर्फ कर सलाहकार के रुप में छ्त्तीसगढ़ में एक जाना माना नाम ही नही अपितु सामाजिक क्रिया कलापों में भी इनकी महती भूमिका का प्रदर्शन अनेकों क्रार्यक्रमों के माध्यम से देखने मिलता है। सीए चेतन तारवानी समय समय पर व्यापार की कर संबंधित आवश्यक जानकारीयां व्यवसायियों को अनेक माध्यमों से देते आये है उसी क्रम में उन्होने एन्टी करप्शन टाइम्स के साथ कुछ जानकारीयाँ साझा किये है जिसे हम आगे दे रहे है।
  • इनकम टैक्स बार एवं सीए ब्रांच के पूर्व अध्यक्ष सीए चेतन तारवानी ने बताया किं जब कोई जीएसटी रजिस्टर्ड व्यापारी माल बेचता है तो वह अपने ग्राहक को जीएसटी बिल देता है बिल देना कब जरूरी होता है उससे संबंधित कुछ नियम।
  • यदि एक व्यापारी दिन भर में चिल्हर में ₹200 से कम का माल जीएसटी में किसी अनरजिस्टर्ड ग्राहक को बेचता हो यदि 20 बार भी बेचता है तो वह उस चिल्हर मूल्य का दिन भर का एक ही बिल बना सकता है जैसे किसी ग्राहक को 90 रुपये का माल बेचा दूसरे ग्राहक को 130 रुपये का माल बेचा तीसरे ग्राहक  को 190 रुपये का माल बेचा चौथे ग्राहक को 80 रुपये का माल बेचा तो इस बिक्री का एक बिल 490 का बना सकता है।
  • लेकिन यदि व्यापारी ने किसी व्यक्ति को 200 या उससे  ऊपर का माल बेचा हो तो उसे उस ग्राहक का अलग से बिल बनाना अनिवार्य होगा चाहे वह जीएसटी में रजिस्टर्ड ग्राहक हो या अनरजिस्टर्ड
  • यदि व्यापारी ने किसी  ग्राहक को 50,000 से ज्यादा का माल बेचा है और वह व्यक्ति जीएसटी में रजिस्टर्ड नहीं है तो बिल में व्यक्ति का नाम, पता, राज्य का नाम एवं कोड और माल कहां डिलीवर होगा यह सभी बिल में दर्शाना अनिवार्य होगा।
  • यदि व्यापारी ढाई लाख से ज्यादा का माल इंटरस्टेट (ढाई लाख सिर्फ माल की लागत होनी चाहिए जिसमें टैक्स  शामिल नहीं होगा ) किसी व्यक्ति को बेचताहै और यदि वह ग्राहक जीएसटी में रजिस्टर्ड नहीं है तो उसे जीएसटी रिटर्न में भी अलग से दर्शाना जरूरी होगा।

जीएसटी बिल में अनिवार्य रूप से

भरे जाने वाले कॉलम….

  • बिल नंबर, बिल की दिनांक, ग्राहक का नाम , बिलिंग का स्थान, जीएसटी नंबर यदि ग्राहक रजिस्टर्ड हो तो एचएसएन कोड, माल का विवरण, कर योग्य राशि, जीएसटी टैक्स के रेट, क्या जीएसटी रिवर्स चार्ज के आधार पर देय है एवं व्यापारी का हस्ताक्षर।

व्यापार जगत : जीएसटी में मात्र 200  रुपये के माल बेचने पर अलग बिल देना अनिवार्य - सीए चेतन तारवानी Pradakshina Consulting PVT LTD

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × one =

Back to top button