2
1
previous arrow
next arrow
छत्तीसगढ़रायपुर

नौकरी दिलाने के नाम पर बेरोजगार युवाओं से लाखों की ठगी

रायपुर। नवा रायपुर के राखी थाने में नौकरी लगाने के नाम पर ठगी का मामला सामने आया है. जिसमें कुछ बेरोजगार युवकों को एक शातिर ठग ने अपने जाल में फंसाया। मंत्रालय में सेटिंग होने का दावा किया। कम्प्यूटर ऑपरेटर, जेल प्रहरी और पटवारी जैसे पदों पर सरकारी नौकरी दिलाने का सपना दिखाया। किसी से डेढ़ लाख तो किसी से दो लाख इस तरह से करीब साढ़े 4 लाख रुपए ऐंठे। जब बारी नौकरी दिलाने की आई तो कह दिया जो करना है कर लो न रुपए वापस मिलेंगे न नौकरी। परेशान युवकों ने अब इस मामले में पुलिस से मदद मांगी है।

राखी थाने की टीम ने इस केस में सतीश ठावरे नाम के ठग के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। उत्तम मरकाम नाम के युवक ने अपनी शिकायत में दावा किया है कि साल 2018 से ठावरे उन्हें मंत्रालय और अन्य जिलों में नौकरी के नाम पर टाल रहा था। उत्तम ने बताया कि मेरे मित्र छोटू राम यादव ने मुझे सतीश ठावरे से राजेन्द्र नगर के विजेता काम्पलेक्स मकान नं 330 में मिलवाया। ठावरे मुझसे कहा कि वो सरकारी नौकरियां लगवाने का काम करता है। उसकी बातों में आकर मरकाम ने अपनी पत्नी के लिए कम्प्यूटर आपरेटर के लिए 1,50,000 रूपये परिचीत बलवंत साहू और विश्राम साहू से पटवारी पद के लिए 1,96,000 रूपये और खुद जेल पहरी पद के लिए 1,00,000 रूपये कुल 4,46,000 रूपये सतीश ठावरे को अलग-अलग किश्तों में नौकरी लगाने के लिए दे दिए। ये रकम सतीश ने मंत्रालय कैंपस में बुलाकर ली। ताकि रुपए देने वाले बेरोजगारों को लगे कि सतीश मंत्रालय से उनका काम आसानी से करवा देगा। अब तक न नौकरी लगी न ही युवकों के रुपए वापस मिले। फोन करने पर उल्टा टावरे इन बेरोजगार युवकों को ही धौंस दिखाकर डराता रहता है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button