2
1
previous arrow
next arrow
Breaking Newsकोरोना वायरसदिल्लीदेशस्वास्थ्य

कोरोना का कहर : AIIMS अस्पताल में हुआ कोरोना विस्फोट


200 मेडिकल स्टाफ निकले संक्रमित

—————

  • दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के मामले तेजी से बढ़ने पर अब भारी संख्या में स्वास्थ्यकर्मी  भी इसकी चपेट में आ रहे हैं, जिससे कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए अस्पतालों में स्वास्थ्यकर्मियों की कमी का गहरा संकट खड़ा हो सकता है. ऐसे में दिल्ली के AIIMS अस्पताल में कोरोना विस्फोट हुआ है, जहां बीते 24 घंटे में 200 स्वास्थ्यकर्मियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है. बता दें कि पिछले 1 हफ्ते में ही यहां के लगभग 400 स्वास्थ्यकर्मियों में संक्रमण होने की पुष्टि हो चुकी है. फिलहाल इन सभी को अस्पताल कैंपस के आइसोलेशन वॉर्ड में रखा गया है।

  • दरअसल, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वहीं, राजधानी के अन्य अस्पतालों में 1200 से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मी बीते 1 हफ्ते में कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं. ऐसे में कई विभागों में तो 70 फीसदी तक डॉक्टर पॉजिटिव हो चुके हैं. हालांकि इसको देखते हुए लेडी हार्डिंग अस्पताल ने कोरोना संक्रमित स्वास्थ्यकर्मियों को 5 दिन के आइसोलेशन के बाद बिना जांच किए अस्पताल का काम शुरू करने के लिए निर्देश दिए है. ऐसे में भारी संख्या में डॉक्टरों के कोरोना संक्रमित निकलने की वजह से स्वास्थ्य अमले में हड़कंप मच गया है. जहां बाकी अस्पताल भी इस लिहाज से अलर्ट मोड में आ गए हैं. वे कोरोना संबंधी गाइडलाइन का चाक-चौबंद तरीके से पालन करा रहे हैं।

  • गौरतलब है कि राजधानी के लेडी हार्डिंग अस्पताल के करीब 100 से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं. वहीं, मेडिसिन विभाग के करीब आधे से ज्यादा डॉक्टर कोरोना संक्रमण की वजह से आइसोलेशन पर हैं. ऐसे में अस्पताल में भर्ती मरीजों की देखभाल में भी समस्याएं आ रही हैं. जहां कम स्टाफ होने के चलते मरीजों की जांच भेजने से लेकर रिपोर्ट मिलने और फिर इलाज में भी काफी समय लग रहा है. इसके अलावा राम मनोहर लोहिया अस्पताल में बीते 1 हफ्ते में 110 स्वास्थ्य कर्मियों कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जिनमें से 65 डॉक्टर शामिल हैं. इसके साथ ही लोकनायक अस्पताल में 30 और जीटीबी में भी 50 स्वथ्यकर्मी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। दिल्ली के अंबेडकर अस्पताल में भी अभी तक 21 स्वास्थ्यकर्मियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिली है।

बीकाणा ब्लड सेवा समिति द्वारा स्व. सीतादेवी डागा की स्मृति में 09 जनवरी को स्वैच्छिक रक्त दान शिविर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two + 13 =

Back to top button