2
1
previous arrow
next arrow
छत्तीसगढ़महासमुन्द

17 मिनट में दहेज मुक्त विवाह (रमैनी), बना अनेक समाजों के लिये मिसाल


जगतगुरु तत्वदर्शी संत

रामपाल महाराज की प्रेरणा व

आर्शीवाद से हुआ दहेज मुक्त

आडंबर से रहित विवाह (रमैनी)

—————

अब बेटिया नही जलेगी

दहेज रूपी दानव की आग में

—————

  • महासमुन्द/एक्ट इंडिया न्यूज/मेघनाथ जोशी
  • महासमुन्द जिले में एक पूर्णतः दहेज मुक्त विवाह (रमैनी) हुआ, जिसमें मानवता की एक नई मिसाल कायम की। महासमुन्द जिले में पिथौरा तहसील के अर्न्तगत गोपालपुर गॉव के निवासी मदनसिह दास का पुत्र भक्त धनश्याम  दास का विवाह महासमुन्द तहसील के अर्न्तगत ग्राम कोडारबांध के निवासी बिमलु दास की बेटी भक्तमति गीता दासी के साथ आज 21 जुलाई 2021 को दोपहर एक बजे मात्र 17 मिनट में रमैनी स्थान नामदान केन्द्र मेमरा जिला महासमुन्द में सम्पन्न हुआ।
17 मिनट में दहेज मुक्त विवाह (रमैनी), बना अनेक समाजों के लिये मिसाल Pradakshina Consulting PVT LTD
  • यह विवाह संत रामपाल महाराज के सत्संगों व उनके द्वारा लिखित पुस्तक ” जीने की राह ” से प्रेरणा पाकर गुरूवाणी से सादगी के साथ किया। विवाह दोनों तरफ के परिवारों की सहमति से हुआ।
  • वहा के सेवादार ने बताया कि दहेज की यह कुपरम्परा अधिकतर शिक्षित वर्ग में फैली हुई है जो धीरे-धीरे ग्रामीण परिवारों में भी प्रवेश कर गयी है। एक गरीब का पिता अपनी बेटी के लिये न जाने कहा-कहा से कर्ज पर पैसा लेता है और सामने वाले की इच्छा पूर्ति का प्रयास करता है। परन्तु इतना सब कुछ करने के बावजूद भी उसकी बेटी को दहेज कम मिलने के कारण प्रताड़िता किया जाता है।

17 मिनट में दहेज मुक्त विवाह (रमैनी), बना अनेक समाजों के लिये मिसाल Pradakshina Consulting PVT LTD

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 3 =

Back to top button