2
1
previous arrow
next arrow
छत्तीसगढ़

खैरागढ़ उप चुनाव: कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक में 24 नामों पर चर्चा, पूर्व विधायक सहित 7 नामों का पैनल बना

रायपुर। खैरागढ़ उप चुनाव के लिए भी कांग्रेस में दावेदारों की फौज खड़ी हो गई है। मंगलवार देर रात हुई कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक में 24 नाम आए। इनमें से अधिक गंभीर सात लोगों के नाम का एक पैनल बना है। इन सात में पूर्व विधायक गिरवर जंघेल का भी नाम शामिल है। समिति ने टिकट का फैसला हाईकमान पर छोड़ा है। बताया जा रहा है कि होली के बाद उम्मीदवार की घोषणा होगी

 

 

 

खैरागढ़ उप चुनाव में उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा के लिए कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक शाम 7 बजे से होनी थी। विधानसभा की कार्रवाई देर शाम तक चलती रही इसकी वजह से बैठक 9.30 बजे के बाद हुई। इस दौरान खैरागढ़ के 24 लोगों के नाम सामने आए जो टिकट के दावेदार हैं। उनमें से एक-एक नाम पर चर्चा हुई। उसके बाद अधिक गंभीर और जिताऊ दिखने वाले 7 नाम छांटकर अलग किए गए।

 

 

 

तय हुआ कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम और प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया इनमें से योग्य उम्मीदवारों को चुनकर सूची केंद्रीय नेतृत्व को भेजेंगे। उम्मीदवार की घोषणा दिल्ली से ही होगी। बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने बताया, आवेदन तो 24-25 लोगों के आए हैं। दावेदारों के जितने भी नाम आए थे उन पर विचार-विमर्श हुआ है। बैठक से पहले प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा, प्रत्याशियों के नाम पर चर्चा के बाद नाम हाईकमान को भेजा जाएगा। बैठक में उप चुनाव की शुरुआती रणनीति पर भी बात हुई है।

 

 

 

इन नामों में से उम्मीदवार की संभावना

 

बताया जा रहा है, 23 नामों में से जिन सात नामों को गंभीर दावेदार माना गया है, उनमें पूर्व विधायक गिरवर जंघेल भी हैं। उनके अलावा दशमत जंघेल, यशोदा जंघेल, ममता पाल और पदम कोठारी का भी नाम है। इन्हीं में से किसी एक को कांग्रेस उप चुनाव में उम्मीदवार बनाने जा रही है।

 

 

 

 

 

महिला उम्मीदवार उतार सकती है कांग्रेस

 

पार्टी सूत्रों का कहना है कि इस उप चुनाव में कांग्रेस किसी महिला उम्मीदवार को उतार सकती है। जिन सात लोगों के पैनल को सबसे गंभीर दावेदार बताया जा रहा है, उनमें भी तीन नाम महिलाओं के हैं। इस चुनाव में संगठन अगले साल होने जा रहे आम चुनावों के लिए भी रणनीतिक पहल करेगी।

 

 

 

17 मार्च से शुरू हो जाएगा नामांकन, 12 अप्रैल को मतदान

 

निर्वाचन आयोग के कार्यक्रम के मुताबिक उप चुनाव के लिए नामांकन 17 मार्च को अधिसूचना के प्रकाशन से शुरू हो जाएंगे। नामांकन की आखिरी तारीख 24 मार्च निर्धारित की गई है। 25 मार्च को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी। 28 मार्च तक प्रत्याशियों को अपने नाम वापस लेने का मौका दिया जाएगा। उसके बाद वैध प्रत्याशियों को चुनाव चिन्ह आवंटित कर दिया जाएगा। खैरागढ़ सीट पर मतदान 12 अप्रैल को होना है। 16 अप्रैल को मतगणना और परिणाम जारी होंगे।

 

 

 

देवव्रत सिंह के निधन से खाली हुई है सीट

 

खैरागढ़ विधानसभा सीट देवव्रत सिंह के निधन से खाली हुई है। 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के देवव्रत सिंह ने इस सीट पर भाजपा की कोमल जंघेल को केवल 870 वोटों के अंतर से हराया था। नवम्बर 2021 में देवव्रत सिंह का निधन हो गया। 2013 में कांग्रेस के गिरवर जंघेल यहां से विधायक थे। 2007 के उपचुनाव और 2008 के आम चुनाव में भाजपा के कोमल जंघेल ने यह सीट जीती। इससे पहले कांग्रेस के देवव्रत सिंह यहां से विधायक हुआ करते थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 + 10 =

Back to top button