2
1
previous arrow
next arrow
छत्तीसगढ़कोन्डागॉव

कोण्डागांव कोविड अस्पतालों में बेहतर सुविधा देने में रहा अव्वल

स्वास्थ्य विभाग के प्रदेशव्यापी

सर्वेक्षण में मरीजों के फीडबैक पर

कोण्डागांव रहा प्रथम

—————

  • कोंडागाँव/गिरीश जोशी/12/01/2021
  • जिला चिकित्सालय से प्राप्त सूत्रों के अनुसार प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी कोविड अस्पताल की रैंकिंग में बेहतर स्वास्थ्य सेवा देने के आधार पर कोण्डागांव जिला पहले नम्बर पर है। यह रैंकिंग कोविड अस्पताल में कोरोना संक्रमित मरीजों को समय पर ईलाज, दवा और सुविधा देने के आधार पर तय की गई है। ज्ञातव्य है कि शासन की ओर से यह सर्वेक्षण कोविड अस्पतालों में कोरोना के ईलाज के बाद डिस्चार्ज होने वाले मरीजों से फीडबैक के आधार पर किया गया है और अस्पतालों को दिये गये सभी रैंकिंग मरीजों के फीडबैक के आधार पर है।
  • इस प्रकार कोण्डागांव जिले में भी सर्वेक्षण के दौरान फीडबैक एकत्रित किये गये थे। इसके तहत् डेडिकेटेड अस्पताल कोविड केयर्स सेंटर्स एवं प्राइवेट अस्पताल शामिल थे। इसमें डाॅक्टरों द्वारा प्रतिदिन मरीजों की जांच, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का मरीजों के संग स्वास्थ्य संबंधी दूरभाष वार्तालाप, दवाईयों के किट एवं मास्क वितरण, सहीं समय पर भोजन का वितरण, उसकी गुणवत्ता, पेयजल एवं गर्म पानी की सुविधा, प्रसाधन कक्ष एवं वार्ड की साफ-सफाई, स्वास्थ्य कर्मियों का व्यवहार जैसे सूचकांक शासन द्वारा निर्धारित किये गये थे।
कोण्डागांव कोविड अस्पतालों में बेहतर सुविधा देने में रहा अव्वल Pradakshina Consulting PVT LTD
  • जिला चिकित्सालय द्वारा यह भी जानकारी दी गई कि अब तक 01 हजार 22 मरीज कोविड अस्पताल में भर्ती किये गये थे, जिसमें से 963 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया है। अस्पताल में भर्ती किये गये मरीजों में से 04 की उपचार के दौरान मृत्यु हो गई थी, जबकि 55 मरीजों को जिले के बाहर बेहतर उपचार हेतु अस्पतालों में रेफर किया गया है। जिले के कोविड केयर सेंटर और कोविड अस्पताल में 14 डाॅक्टर एवं 34 स्टाॅफ नर्स एवं 08 वार्ड ब्वाॅय तैनात हैं साथ ही 100 बिस्तरों वाले अस्पताल में 30 बिस्तर सेंट्रल आक्सीजन से जुड़े हैं एवं सभी कोविड-19 मरीजों को ‘सीटी स्कैन‘ की सुविधा भी उपलब्ध कराई जा रही है।
  • इस कोरोना संक्रमण के दौरान 03 सफल प्रसव भी जिला चिकित्सालय में किया गया है। उल्लेखनीय है कि शुरूवात में कोविड-19 अस्पताल में मरीजों द्वारा कुछ असुविधाओं के संबंध में जिला प्रशासन को सूचित किया गया था। जिसके उपरांत कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने स्वयं संज्ञान लेते हुए अस्पताल में खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की ड्यूटी लगाकर मरीजों को दिये जाने वाले खाने, स्वच्छता का ध्यान रखने हेतु निर्देशित किया था साथ ही कलेक्टर स्वयं प्रत्येक जिले में होने वाले कोरोना से मृत्यु के कारणों की समय-समय पर समीक्षा जिले के स्वास्थ्य अधिकारियों से करते रहे हैं।
कोण्डागांव कोविड अस्पतालों में बेहतर सुविधा देने में रहा अव्वल Pradakshina Consulting PVT LTD
  • इसके अलावा जिले में स्वास्थ्य जांच, मरीजों की स्थिति, वाहनों की उपलब्धता आदि के संबंध में समय-समय पर जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठकें सम्पन्न होती है। वर्तमान में जिले में कुल 4947 कोरोना पाॅजिटीव पाये गये हैं, जिनमें से 4869 मरीज अब तक ठीक हो चुके हैं, जबकि जिले के 32 निवासियों की कोरोना से मृत्यु हुई है।

व्यापार जगत : बिहार के दो नौजवानों ने किया लेमन ग्रास की खेती की ओर रुख, बनाई लेमन ग्रास की चाय

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button