2
1
previous arrow
next arrow
Breaking Newsकोरोना वायरसदिल्लीदेशस्वास्थ्य

Omicron को लेकर रेलवे ने भी बढ़ाई सख्ती, नई गाइडलाइन जारी

  • कोरोना के नए वैरिएंट Omicron को लेकर अब रेलवे भी सतर्क हो गया है. रेलवे ने यात्रियों के साथ ही अपने कर्मचारियों के लिए नई गाइडलाइन जारी की है, जिसमें सभी कर्मचारियों को दोनों टीके लगवाना अनिवार्य कर दिया गया है और यात्रियों को कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना ही होगा.
  • Indian Railways/IRCTC: रेलयात्री कृपया ध्यान दें… कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के मामले सामने आने के बाद एक तरफ जहां उड्डयन मंत्रालय ‘अलर्ट मोड’ में आ गया है और आज से फ्लाइट्स के लिए नई गाइडलाइंस लागू कर दी गई हैं. वहीं इसके बाद रेलवे भी ओमिक्राॉन को लेकर विशेष सतर्कता बरतने जा रहा है. रेलवे ने अब ट्रेनों में भी कोरोना को लेकर सख्‍ती बढ़ाने का फैसला किया है और कोरोना को लेकर यात्रियों के लिए नई गाइडलाइन जारी Railways New Corona Guidelines की है. अगर आप भी ट्रेन से यात्रा करने की सोच रहे हैं तो रेलवे के नए दिशा-निर्देशों को अच्छी तरह से जान लें.

रेलवे मुख्यालय ने जारी किए आदेश

  • उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने मंगलवार को अंबाला, दिल्ली, लखनऊ, मुरादाबाद और फिरोजपुर मंडल के अधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बात की और पूरी जानकारी ली. इसके दौरान महाप्रबंधक ने नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर दिशा निर्देश जारी किए हैं. इससे पहले रेलवे ने कोरोना काल में जो गाइडलाइंस जारी की थीं, उनका रिव्यू करते हुए इस में पूरी तरह से सख्ती बरतने का निर्देश दिया है और किसी भी तरह की कोई ढील नहीं देने की बात कही है.

सभी कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन

की दोनों डोज लगवाना जरूरी

  • महाप्रबंधक के साथ हुई मीटिंग में सभी मंडलों में कर्मचारियों व अधिकारियों के कोरोना वैक्‍सीन की डोज लेने के बारे में भी चर्चा हुई, जिसमें कहा गया कि 90 प्रतिशत कर्मचारियों व अधिकारियों ने कोरोना वैक्‍सीन की पहली डोज लगवा ली है, जबकि दूसरी डोज महज 60 प्रतिशत कमर्चारियों और अधिकारियों ने ही लगवाई है. ऐसे में दूसरी डोज के लिए फोकस करने के निर्देश दिए गए, कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए तीसरी बूस्टर डोज के निर्देश आते हैं, तो वह भी प्राथमिकता से लगवाई जाएं, इसके लिए कर्मचारियों को जागरूक करने को कहा गया है.

रूटीन में चेक करते रहें, ताकि

जरूरत पड़ने पर परेशानी न हो

  • दिशा- निर्देश जारी करते हुए कहा गया है कि ट्रेन में यात्रियों को लेकर सभी कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करना जरूरी है. कंप्यूटरीकृत आरक्षण टिकट बुक करवाते समय यात्री को अपने गंतव्य का पता भी देना होता है, इस नियम को भी अगले आदेशों तक लागू रखा जाएगा.
  • बता दें कि कोरोना का ग्राफ कम होने के कारण रेलवे ने स्पेशल दर्जे की ट्रेनों से जीरो हटाकर पहले की तरह कर दिया है, हालांकि अभी लंबी दूरी की सभी ट्रेनों में टिकटों की अनरिजर्व टिकटिंग सिस्टम (यूटीएस) नहीं की जा रही.
  • रेलवे के सामने यात्रियों को मास्क और शारीरिक दूरी जैसे नियमों की पालना करवाना चुनौती बना हुआ है, लेकिन फिर भी इसको लेकर भी दिशा निर्देश जारी किए गए हैं. उधर, मंडल रेल प्रबंधक ने बताया कि कोरोना के ओमिक्रोन वैरिएंट को लेकर रेलवे पूरी तरह से अलर्ट है. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जो भी गाइडलाइन आएंगी, उनका समय पर पालन किया जाएगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 − 1 =

Back to top button