छत्तीसगढ़सक्ती

राजा सुरेंद्र बहादुर सिंह का 82वॉ जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया

हजारों की संख्या में लोग हुए शामिल

राजा सुरेन्द्र बहादुर सिंह सक्ती  रियासत के राजा है और इनका राजनैतिक जीवन 1977 से प्रारंभ हुआ, अनेक बार अविभाजित मध्यप्रदेश में सक्ती से विधायक रहते हुए मध्यप्रदेश में मन्त्री भी रहे।


  • सक्ती/27/10/2023
  • सक्ती राजा सुरेंद्र बहादुर सिंह का जन्मोत्सव राजा धर्मेंद्र सिंह के नेतृत्व में धूमधाम से बनाया गया। हजारों की संख्या में जनता हुई शामिल। सुबह से बधाई देने लोगों का लगा ताता। सक्ती राजा सुरेंद्र बहादुर सिंह का 82 वॉ जन्मदिन धूमधाम से मनाया गया। सक्ती नगर समेत गांव से हजारों की संख्या में लोग हुए शामिल। सक्ती राज परिवार जब तक क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करता रहा, क्षेत्र की जनता शोषण से सुरक्षित रही है और अब हर स्थान, हर पल लोगों को तंग व शोषण किया जा रहा है, यह बात सक्ती राज परिवार के राजा सुरेंद्र बहादुर सिंह ने अपने जन्म दिवस के अवसर पर बधाई देने उपस्थित लोगों के स्वागत से अभिभूत हो कर कहते हुए आगे आग्रह किया कि आप सभी जनों की उपस्थिति, प्रेम स्नेह सदा राज परिवार के प्रति बना रहे।

  • आज विधानसभा चुनाव की बेला पर राजा साहब के जन्म दिवस पर उमड़े भीड़ को अगर शक्ति परीक्षण के रूप में देखा जाए आज भी राजा सुरेंद्र बहादुर सिंह अन्य दावेदारों से काफी भारी पड़ते दिखाई दे रहे हैं, लोगों में यह चर्चा आम रही की आज भी खुद राजा सुरेंद्र बहादुर सिंह अगर मैदान में उतरते हैं तो क्षेत्र की जनता को राजा साहब में अपना भरोसा नजर आ रहा है और होना भी यही चाहिए कि राजा धर्मेंद्र सिंह के सक्रियता के साथ उम्मीदवारी सक्ती की राजनीति में एक नया अध्याय साबित हो सकता है।

  • कुल मिलाकर जब जनता के बीच राष्ट्रीय पार्टी से सत्तावन विपक्ष के उम्मीदवारों को लेकर जो आक्रोश वह निराश की धुंध के बीच आशा की कोई किरण नजर आ रही है तो वह सक्ती राजा सुरेंद्र बहादुर सिंह व उनके दत्तक पुत्र राजा धर्मेंद्र बहादुर सिंह स्वयं ही हो सकते हैं क्योंकि जनता का उनके प्रति भरोसा प्रेम और स्नेह आज भी कायम नजर आता है

  • राजा सुरेंद्र बहादुर सिंह के आवाज में आज भी जनता के प्रति तकलीफों को लेकर तड़प और आक्रोश अभी भी नजर आ रहा था पर आगे देखिए भविष्य की राजनीति में राजा सुरेंद्र बहादुर सिंह व उनके दत्तक पुत्र धर्मेंद्र बहादुर सिंह को लेकर क्या संभावनाएं बनती है शीघ्र ही सबके सामने होगा।  आज राजा साहब से भेंट मुलाकात व शुभकामना देने बाद लोगों के सम्मान में राज परिवार की ओर से स्वरुचि भोज के कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जिसका लोगों ने भरपूर आनंद लिया।

  • आपको बताते चले कि राजा सुरेन्द्र बहादुर सिंह सक्ती  रियासत के राजा है और इनका राजनैतिक जीवन 1977 से प्रारंभ हुआ, अनेक बार अविभाजित मध्यप्रदेश में सक्ती से विधायक रहते हुए मध्यप्रदेश में मन्त्री भी रहे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *