2
1
previous arrow
next arrow
राजस्थानराजस्थान

राजस्थान : बारवा घटनाक्रम में निर्दोष लोगों को फंसाए जाने से आक्रोशित लोग उपखंड कार्यालय पहुंचे


उदयपुरवाटी पुलिस ने चार

निर्दोष लोगों को भेजा जेल

आई जी, डीजीपी को बताएंगे।

—————

जरूरत पड़ी तो उच्च न्यायालय

का भी खटखटाएंगे दरवाजा

—————

आक्रोशित महिला पुरुषों ने

पुलिस के खिलाफ लगाए नारे

—————

  • उदयपुरवाटी/सुमेर मीणा
  • बारवा में गत 9 जुलाई को जमीनी विवाद को लेकर हुए घटनाक्रम ने अब नया रूप ले लिया है। गुरुवार को आदिवासी नेता प्रमुख समाजसेवी सुरेश मीणा किशोरपुरा के नेतृत्व में एससी, एसटी और ओबीसी समाज के विभिन्न संगठनों के लोग उदयपुर उपखंड कार्यालय पहुंचे। उपखंड अधिकारी राजेंद्र सिंह को मुख्यमंत्री, जिला कलेक्टर एवं एसपी के नाम ज्ञापन सौंपा तथा उदयपुरवाटी विधायक राजेंद्र सिंह गुढ़ा को भी दूरभाष पर मामले से अवगत करवाया गया।
राजस्थान : बारवा घटनाक्रम में निर्दोष लोगों को फंसाए जाने से आक्रोशित लोग उपखंड कार्यालय पहुंचे Pradakshina Consulting PVT LTD
  • सुरेश मीणा किशोरपुरा व सामाजिक नेता राजेश बाकोलिया एवं गुर्जर नेता किशन लाल ने कहा उदयपुरवाटी थाने की एफ आई आर नंबर 245, 246, 2021 में बसावा निवासी सुमेर मीणा को घटना के समय कोटपूतली शहर में रिश्तेदार के दाह संस्कार में थे। जिसके टोल टैक्स, पेट्रोल पंप, होटल के सबूत साक्ष्य के रूप में मौजूद हैं। इसी प्रकार अध्यापक राधेश्याम गुर्जर घटना के समय राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय धोलाखेड़ा में अपनी सेवाएं दे रहे थे। इसी प्रकार दो अन्य लोग भी राजस्थान से बाहर थे उनको भी मुलजिम बनाया गया है।
  • उन्होंने कहा कि शायद उदयपुरवाटी के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है। जो व्यक्ति घटनाक्रम में मौजूद ही नहीं उस पर भी संगीन धारा 307, 382, 427, 323, 341 आदि आईपीसीसी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आनन-फानन में पुलिस थाने लेकर आ गए जहां 2 दिन थाने के हवालात की हवा खिलाई तीसरे दिन इन्हें जेल भेज दिया गया जो अब तक जेल की सलाखों में है।
  • निर्दोष व्यक्तियों के साथ इस तरह का अन्याय किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसके लिए भले ही हमें कुछ भी करना पड़े। किशोरपुरा ने कहा कि दोषी व्यक्ति के खिलाफ कार्यवाही हो तथा उसे सख्त से सख्त सजा मिले हम इसके पक्षधर हैं लेकिन निर्दोष व्यक्तियों पर तानाशाही पूर्वक लगाए गए झूठे मुकदमे कैसे बर्दाश्त किए जाएंगे।
राजस्थान : बारवा घटनाक्रम में निर्दोष लोगों को फंसाए जाने से आक्रोशित लोग उपखंड कार्यालय पहुंचे Pradakshina Consulting PVT LTD
  • उनका कहना है कि इसके लिए वह शीघ्र ही दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ हाईकोर्ट जाएंगे 5 दिवस के अंदर निर्दोष लोगों को रिहा नहीं किया गया तो उदयपुरवाटी उपखंड कार्यालय एवं पुलिस थाने पर प्रदर्शन किया जाएगा। इस घटनाक्रम को लेकर बड़ी संख्या में महिलाओं एवं पुरुषों ने नारेबाजी करते हुए कोरोना प्रोटोकॉल की पालना करते हुए अपनी मांगे प्रशासनिक अधिकारियों के समक्ष रखी।
  • इस अवसर पर अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद के जिलाध्यक्ष रतनलाल जोधपुरा, बहुजन क्रांति मोर्चा के जिला संयोजक शीशराम सिलोलिया, सामाजिक क्रांतिकारी युवा नेता राजेश बाकोलिया, हरकेश मीणा, मनदीप मीणा, किशन लाल गुर्जर भाजपा जिला मंडल अध्यक्ष बसावा, सुरेंद्र देवी मीणा, विशाखा मीणा, हरी मीणा एनयूएसआई जिला उपाध्यक्ष, जयराम मीणा, सजना देवी, सरोज देवी, सोहनी देवी,भोली देवी, संतरा देवी, आदि सहित काफी संख्या में महिला एवं पुरुष मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × one =

Back to top button